16 thoughts on “Adarsh credit society | adarsh credit good news | adarsh credit society latest news | adarsh credit

  • रही बात लिक्यूडेशन की तो सरकार की मन्शा शुध्द रूप से सोसाइटी को खत्म करने की थी इसलिए सरकार के एक मन्त्री जो एक अन्य सोसाइटी में अपनी भागीदारी रखते है उन्होंने आनन फानन में सोसाइटी को लिक्यूडेशन में करने के लिए उस समय के केन्द्रीय रजिस्टार को लिक्यूडेशन के लिए दबाव डाला था लेकिन रजिस्टार ने लाखों निवेशकों के भविष्य को देखते हुवे इस गलत काम के लिए मना कर दिया था तब इन्ही मंत्री महोदय ने उन रजिस्टार का स्थानांतरण कर दूसरे अधिकारी से लिक्यूडेशन ऑर्डर करवाया है और गुजरात के सबसे भ्रष्ट रिटायर्ड IAS अधिकारी को लिक्यूडेटर की नियुक्ति पर आसीन किया है , लेकिन मोदी साहब ने हिम्मत नहीं हारी और वे सरकार के इस गलत निर्णय के खिलाफ गुजरात उच्च न्यायालय गए और वहाँ से लिक्यूडेटर के खिलाफ स्थगन आदेश लेकर आये ।
    SOG के जो अधिकारी बार बार FIR दर्ज करवाने के लिए जो दबाव बना रहे है उसके पीछे सबसे महत्त्वपूर्ण है अपने प्रमोशन के लिए अंक बढ़ाने का खेल है ताकि वे न्यायालय के सामने अपनी जाँच को सही साबित करने के लिए इन FIR का हवाला दे सकें ।
    माननीय मोदी साहब से विगत 24 जून को मिलना हुआ था और उनकी सबसे बड़ी चिन्ता निवेशकों को पैसा लौटाने की ही है क्योकि सरकार को यह पता है कि अगर मुकेश जी मोदी बाहर आ गए तो वे सोसाइटी को फिर वापस खड़ी कर देंगे इसलिए उनका पूरा प्रयास है कि मोदी जी किसी भी हालत में बाहर नहीं आए लेकिन हमें पूर्ण विश्वास है कि भरतीय न्याय व्यवस्था हमें न्याय देकर रहेगी बस हमें धैर्य रखकर मजबूती के साथ खड़े रहने की आवश्यकता है और हमें भी सहारा के अभिकर्ताओं की तरह हिम्मत रखकर अपने कार्य को अनवरत करने की जरूरत है क्योकि आप सभी को विदित है कि सहारा श्री 2 वर्ष जेल में रहें लेकिन उनके पीछे उनके कर्तव्यनिष्ठ अभिकर्ता एवं एम्प्लॉय ने अपने काम को निर्बाध रूप से चलने दिया और आज भी सहारा में कस्टमर को पेमेंट नही मिल रहाँ उसके बाद भी उनके अभिकर्ता एवं निवेशकों में कोई घबराहट नहीं है , वैसी हिम्मत हमें भी रखनी होगी और यह तय है कि एक दिन सत्य की ही जीत होगी और इस सत्य की लड़ाई के लिए हम सब को मोदी जी के साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर चलना होगा क्योकि मोदी जी को अगर निवेशकों की चिन्ता नहीं होती तो वे जिस समय लिक्यूडेटर बैठा था उसी समय अपने हथियार डाल देते ,लेकिन उस व्यक्ति ने बिल्कुल भी हिम्मत नहीं हारी और आज भी अपने सम्पूर्ण परिवार के जेल में होने के बाद भी उस व्यक्तित्त्व को अपने निवेशकों का पैसा चुकाने की चिंता है और हम सब को भी सरकार पर यह दबाव बनाना होगा कि सरकार उनको अपनी संपत्ति बेचने की अनुमति दे ।।

  • भाई लोगो इस फर्जी चैनल को रिपोर्ट करे

  • कोर्ट का अभी स्टेटमेंट क्या आया तुजे मालूम हैं।

    कोर्ट की तरफ से कोई आरोप तय हुआ हैं। आप की पूरी जानकारी के तहत सुप्रीम कोर्ट में याचिका जा सकती है

  • What is new in this video? Nothing. These video makers are making
    us fool and BEVKUF. No hope at all. I am a small farmer of a village in
    Gujarat. By doing hard work in farming and agriculture, I had saved 5 Lakh
    rupees and this hard-earned savings had been invested in Adarsh Credit to get
    double in 6 years time period in January 2013. The F.D. became matured in
    January 2019. Five months passed, yet I can't get a single rupee. I am 64 years
    old. This amount was for my elderly age. What an unfortunate man I am. Though I
    am B.com. graduate from Gujarat University in 1977, But I had
    selected farming for my livelihood from that time. I have lost my entire
    amount. As a small and poor farmer I can't fight against these monsters. HAVE
    HU SHU KARU? AB MAI KYA KARU? ( What can I do now?) I have no enough money even
    to buy poison for suicide. The corporate office of Adarsh Credit is in
    Ahmedabad. From my village I visit this office every next day. At every visit I
    have been insulting by the local staff of the office. Because of my frequent
    visits, now the employees recognize me very well. Hence, sometimes they prevent
    me to enter the gate. I am also being scolded by my family members often on my
    mistake of investing money in Adarsh. This is my tragedy. Due to keen shortage
    of money I have sold my one bullock and one buffalo, which were my ultimate
    Aadhar of my life. I have watched more than 110 videos of Adarsh Credit till
    today. All video makers are playing with our feelings. They don't know and they
    do not feel our pain, trouble and miserability. They are only interested in
    increasing the number of viewers. We all know that at the end of every video
    they beg to subscribe their video. What does this mean? Koi kisika nahi hai
    bhai. Sub juthe, beiman or makkar hai. JAY JAWAN, JAY KISHAN, JAY GUJARAT,
    BHARAT MATA KI JAY. ———- Baldevbhai M. Patel

  • In kutto se janta ka paisa dilwaye our bad me in choro ko fasi de sath hi modi ne jo ajent bana rekhe h unko bhi saja de ye dalal hi janta ko fasate h

  • तुम्हारी न्यूज पसन्द नही आयी।
    उम्र कैद के बारे में तो मुँह से बोला ही नही। और वीडियो के शीर्षक में लिख दिया गया उम्र कैद।

  • गलत न्यूज़ हुई तो मेरा दावा है ईश्वर आपको नहीं छोड़ेगा जो होगा सामने आएगा गरीब की दुआ कभी ख़ाली नहीं जाती गलत खबर मत डालो

  • यह खबर झूठी है सोसायटी के प्रबंध निदेशक कानून का सामना कर रहे हैं जांच पूरी होने के बाद ही कोई निर्णय हो पाएगा अतः ऐसी भ्रामक सूचना देना ठीक नहीं है

  • इसको जेल हो गई तो जनता के रूपये राजनेता व प्रसासन लूट लेगें।
    It is truth…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *